Breaking News

योगी आदित्यनाथ के पहुंचते ही जयश्रीराम के नारों से गूंज उठी बंगाल की धरती, योगी बोले: गर्व से कहो हम हिन्दू हैं

योगी आदित्यनाथ के पहुंचते ही जयश्रीराम के नारों से गूंज उठी बंगाल की धरती, योगी बोले: गर्व से कहो हम हिन्दू हैं

आज की तथाकथित सेक्यूलर राजनीति में पूरी तरह से डूब चुकी पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री तथा फायरब्रांड हिंदूवादी नेता योगी आदित्यनाथ जी को बंगाल में घुसने से रोकने के तमाम प्रयास किये. 

ममता ने बंगाल में योगी जी का हेलीकाप्टर नहीं उतरने दिया, लेकिन वह योगी जी को रोक नहीं सकी. झारखण्ड के बोकारे में योगी जी का हेलिकॉप्टर लैंड किया तथा वहां से वह सड़क मार्ग से पश्चिम बंगाल के पुरुलिया पहुंचे तथा विशाल जनसभा को संबोधित किया.

योगी आदित्यनाथ जी के पुरुलिया पहुँचते ही बंगाल की धरती जयश्रीराम के नारों से गूंज उठी. 

योगी जी को देखते ही लाखों की संख्या उपस्थित भीड़ भारतमाता की जय तथा जयश्रीराम के नारे लगाने लगी. स्वयं योगी आदित्यनाथ जी ने मंच पर पहुँचते ही सबसे पहले गर्व से कहो हम हिंदू हैं’ का नारा दिया तथा उसके बाद अपना भाषण शुरू किया. 

पुरुलिया की रैली में योगी आदित्यनाथ ने कहा कि यही धरती है जहां के लोगों ने देश को गुलामी की बेड़ियों से निकालने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई. योगी जी ने कहा कि ममता ने मुहर्रम के कार्यक्रम को अनुमति दी, लेकिन दुर्गा पूजा के कार्यक्रम को रोक दिया. बंगाल को इस सरकार से मुक्ति मिलनी चाहिए.

ममता सरकार को चेतावनी देते हुए योगी आदित्यनाथ जी ने कहा कि जिस जिन भाजपा की सरकार बंगाल में आएगी, उस दिन टीएमसी के गुंडों के गले में तख्ती लटका दी जाएगी. 

भाजपा शासित राज्यों में गुंडे अपनी जान की भीख मांग रहे हैं. योगी जी ने कहा कि बंगाल देश की स्वाधीनता का प्रतीक रहा है और अब एक बार फिर इस कुशासन के खिलाफ लड़ना होगा. 

बंगाल में बीजेपी के कार्यकर्ताओं पर हमले हुए हैं, धार्मिक आधार पर हिन्दुओं का उत्पीडन हुआ है, हिन्दू आस्थाओं को कुचला गया है लेकिन अब ऐसा नहीं होगा. योगी आदित्यनाथ जी ने कहा कि बंगाल की जनता ममता सरकार को उखाड़ फेंकने के लिए भारतीय जनता पार्टी का समर्थन करेगी तथा पुण्यभूमि बंगाल में कमल खिलेगा. अपने भाषण के अंत में योगी जी ने कहा कि बंगाल की धरती को कोटि-कोटि नमन करता हूं. इसके बाद योगी जी जय श्रीराम के नारे लगाये.

No comments